Wednesday, November 25, 2020

सुपर हेल्दी बनने के 8 आसान टिप्स आजमाएं

सुपर हेल्दी बनने के 8 आसान टिप्स आजमाएं

जैसा की आप सभी को पता है कि 1 महीने बाद नया साल आ रहा है, तो इसी नए साल की आगाज़ में हम आपको 8 ऐसे टिप्स बताने जा रहे हैं, जिससे कि आप उम्र भर हेल्दी रहोगे. तो कौन से हैं, ये 8 टिप्स आइए जानते हैं..

सुपर हेल्दी

दिन की शुरुआत में प्रोटीन लें – दिन की शुरुआत में प्रोटीन लेने से ग्लूकोज और इंसुलिन पर नियंत्रण बेहतर रहता है, उन लोगों की तुलना में जो कम प्रोटीन या बिना प्रोटीन वाला आहार लेते हैं. टोस्ट पर मक्खन की जगह पीनट बटर लगाएं, परांठे की जगह अंडा खाए और प्लेन जूस की बजाए योगर्ट से बना स्मूथी लें. यह बदलाव आपके नाश्ते में प्रोटीन भर सकते हैं और आपको अधिक स्वस्थ बना सकते हैं.

स्मार्ट स्नेक – मफिन (और कार्बोहाइड्रेट से प्रचुर अन्य स्नेक्स जैसे कुकीज वगैरह) को बादाम के साथ रोज खाएं. रोज 1.5 ओंस (लगभग 40 ग्राम) बादाम खाने से एलडीएल और टोटल कोलेस्ट्रॉल बेहतर होता है और इसे मोटापा भी बहुत तेजी से कम होता है.

मक्खन और घी से डरें नहीं – शोध ने इस दावे को खारिज किया है, कि संतृप्त वसा से हृदय रोग होते हैं. नया मंत्र यह है कि एसएफ को एकदम पूरी तरह से बंद न करें, इसे सहजता से लें.

डाइट ड्रिंक्स को ना कहें – कई अध्ययन डाइट पेयों के सेवन को हृदय रोग, आघात और बढ़ती मृत्यु दर से जोड़ते हैं. आंकड़े भी बड़े हैं- शोधकर्ताओं ने कार्डियोवैस्कुलर स्थिति में 30% की बढ़ोतरी बताई है और स्ट्रोक जैसी संबंधित स्थिति से मौत का जोखिम 50% बढ़ जाता है.

चिप्स की जगह सेब खाएं – शोध बताते हैं कि कभी फलने खाने वाले लोगों की तुलना में प्रतिदिन फल खाने वाले लोग हृदय रोग के जोखिम को 25 से 40% तक कम करते हैं. खूब फल खाने वाले लोगों का ब्लड प्रेशर कभी फल नहीं खाने वालों की तुलना में बहुत कम रहता है.

ट्रांस फैट्स से बचें – वैज्ञानिक कहते हैं कि ट्रांस फैट्स हृदय के साथ स्मृति (मेमोरी) के लिए भी बुरे हैं. खूब ट्रांस फैट खाने वाले लोगों का वर्ड मेमोरी टेस्ट में प्रदर्शन बहुत खराब रहता है. इन्हें अपने आहार से बाहर करना जरूरी है. यह कृत्रिम मक्खन, फास्ट फूड, बेक्ड फूड, स्नैक फूड और पार्शियली हाइड्रोजेनेटेड ऑयल्स से बने भोजन में मौजूद होते हैं.

चावल छोटी चीज नहीं है – जो लोग चावल (सफेद या भूरा) प्रतिदिन खाते हैं, उनके आहार की गुणवत्ता और पोषक तत्व बेहतर रहते हैं. शोधकर्ताओं ने पाया है कि जो लोग चावल खाते हैं, उन्हें फल, हरी/नारंगी सब्जी, अनाज, मांस और बीन तथा कम शक्कर खाना पसंद होता है.

अपने मस्तिष्क के लिए हरित बनें – हरित आहार लेने से हृदय रोग दूर रहते हैं, कैंसर की रोकथाम होती है और बोध क्षमता बेहतर होती है. अध्ययन की रिपोर्ट कहती है कि ग्रीन टी पीने से मस्तिष्क के पैर पैर एयरटेल और फ्रंटल का टैक्स की कनेक्टिविटी बढ़ती है और कार्य में प्रदर्शन अच्छा होता है.

यहां बताए गए तरीके एकदम से अपनाना थोड़ा मुश्किल है, ऐसे में आप धीमे-धीमे इन तरीकों को अपनी आदत में शामिल कर सकते हैं.

शुरुआत हेल्दी ब्रेकफास्ट से करिए और यह ध्यान रखिए कि नाश्ता पूरे दिन का सबसे महत्वपूर्ण आहार है, नाश्ता ना करना सबसे बड़ी गलती है.

साथ ही कोशिश करिए कि दिन भर में जंक फूड या ऐसी चीजों का सेवन ना करें जो आपके शरीर को और आपके हेल्दी डाइट प्लान को नुकसान पहुंचा सकती हो.

यह डाइट प्लान फॉलो करना इतना भी मुश्किल नहीं है. बस जरूरत है जरा सी कोशिश की.

अगर हेल्दी रहने के डाइटिंग प्लान को आप जरूरत नहीं आदत की तरह अपनाएंगे तो यकीन मानिए, आप खुद को अंदर से और ज्यादा बेहतर पाएंगे. इसका साफ रिफ्लेक्स दिखेगा आपकी हेल्थ और लाइफस्टाइल पर.

अगर यह आर्टिकल आपको अच्छा लगा हो, तो कमेंट जरूर करें और इसे अपने दोस्तों और फैमिली के साथ शेयर जरूर करें और जुड़े रहे हमारे ब्लॉक से हम इसी तरह के टिप्स ब्लॉग लिखते रहते हैं.

धन्यवाद.

Rakesh Varmahttps://www.varmajitips.com
Hello Friends, I'am Rakesh Varma.. Admin of Varmajitips.com, Mujhe Logo ko Health, Technology, Fitness, etc Topic pe Tips Dena accha lagta hai or is website par me logo ko hindi me jankari deta hu..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

टॉपिक चुने