Home लाइफस्टाइल हेल्थ टिप्स करेले के 20 फ़ायदे हिंदी में | Karele Ke Labh Hindi Me

करेले के 20 फ़ायदे हिंदी में | Karele Ke Labh Hindi Me

Advertisement
Advertisement

Karele Ke Labh Hindi Me | करेले के 20 फ़ायदे हिंदी में

करेला शुगर मरीज़ के लिए एक वरदान है। अगर आपको शुगर है तो करेले से आपको एक गहरा सम्बन्ध बनाना पड़ेगा क्यों की यही एक चीज़ है जिसमे वो क्षमता है जो शुगर को सामान्य कर सकती है। करेले का प्रयोग हम विभिन्न तरीके से कर सकते है जो हम इस टॉपिक में आपको बताने जा रहे है।

1. करेले की सब्जी – आपके खाने में रोज एक सब्जी होनी चाहिए वो है करेले की सब्जी। करेले की सब्जी शुगर मरीज़ को बहुत लाभदायक है। कुछ लोग करेले की सब्जी बनाते समय करेले को बिलकुल भून लेते है पर ऐसा नहीं करना चाहिए, करेले को बिलकुल भून लेने पर उसमे मौजूद कड़वापन बिलकुल समाप्त हो जाता है जिसके बाद करेले की सब्जी खाने का कोई लाभ नहीं वो सिर्फ स्वाद के लिए खाई जा रही है। करेले में मौजूद कड़वापन ही तो वह कारण है जो शुगर को सामान्य करता है। तो अब अगर आप शुगर सामान्य करने की लिए करेले की सब्जी बनाना चाहते है तो ये बात जरूर याद रहे।

2. करेले का जूस – रोज सुबह टहलने के बाद करेले का जूस आपकी सेहत के लिए बहुत लाभदायक है स्पेशली शुगर मरीज़ के लिए। अपनी रोज की दिनचर्या में करेले का जूस तब तक पिए जब तक की शुगर कंट्रोल में न आ जाये। करेले के जूस से आप शुगर को कंट्रोल कर सकते है।

3. करेले का चूर्ण – करेले को सुखाकर उसका चूर्ण बनाकर खाली पेट लेने से आप शुगर कंट्रोल कर सकते है। करेले का चूर्ण भी शुगर को बहुत तेज़ी से काम करता है

अचूक विधि – करेले को कूट कर या मिक्सी में पीस करे उसका जूस निकालकर उसे एक बड़े बर्तन में रखे और मरीज़ के दोनों पैर उस में डालने को कहे और मरीज़ द्वारा पैरों को लगभग १५ – २० मिनट तक चलाना चाहिए या जब तक मरीज के जीभ में कड़वापन न आजाये। जब मरीज के जीभ में कड़वापन आजाए तो पैर हटा लेने चाहिए और ये क्रम २० दिन से १.५ महीने तक करना चाहिए इसके आश्चर्यजनक परिणाम मिलेंगे।

करेले के अन्य फ़ायदे हिंदी में

1 करेले में फास्फोरस पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। यह कफ, कब्ज और पाचन संबंधी समस्याओं को दूर करता है। इसके सेवन से भोजन का पाचन ठीक तरह से होता है, और भूख भी खुलकर लगती है।

2 अस्थमा की शि‍कायत होने पर करेला बेहद फायदेमंद होता है। दमा रोग में करेले की बगैर मसाले सब्जी खाने से लाभ मिलता है।

3 पेट में गैस बनने और अपच होने पर करेले के रस का सेवन करना अच्छा होता है, जिससे लंबे समय के लिए यह बीमारी दूर हो जाती है।

4 करेले का जूस पीने से लीवर मजबूत होता है और लीवर की सभी समस्याएं खत्म हो जाती है। प्रतिदिन इसके सेवन से एक सप्ताह में परिणाम प्राप्त होने लगते हैं। इससे पीलिया में भी लाभ मिलता है।

5 करेले की पत्त‍ियों या फल को पानी में उबालकर इसका सेवन करने से, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, और किसी भी प्रकार का संक्रमण ठीक हो जाता है।

6 उल्टी-दस्त या हैजा हो जाने पर करेले के रस में काला नमक मिलाकर पीने से तुरंत आराम मिलता है। जलोदर की समस्या होने पर भी दो चम्मच करेले का रस पनी में मिलाकर पीने से लाभ होता है।

7 लकवा या पैरालिसिस में भी करेला बहुत कारगर उपाय है। इसमें कच्चा करेला खाने से रोगी के लिए लाभदायक होता है।

8 खून साफ करने के लिए भी करेला अमृत के समान है। मधुमेह में यह बेहद असरकारक माना जाता है। मधुमेह में एक चौथाई कप करेले का रस, उतने ही गाजर के रस के साथ पीने पर लाभ मिलता है।

9 खूनी बवासीर में करेला अत्यंत लाभदायक है। एक चम्मच करेले के रस में आधा चम्मच शक्कर लिाकर पीने से इसमें आराम होता है।

10 गठिया व हाथ पैरों में जलन होने पर करेले के रस की मालिश करना लाभप्रद होता है।

Advertisement
Rakesh Varmahttps://www.varmajitips.com
Hello Friends, I'am Rakesh Varma.. Admin of Varmajitips.com, Mujhe Logo ko Health, Technology, Fitness, etc Topic pe Tips Dena accha lagta hai or is website par me logo ko hindi me jankari deta hu..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recent Comments